नींद लें और घटाएं अपना वजन | Sleep and lose weight : connection between sleep and weight loss

Sleep and lose weight : connection between sleep and weight loss

नींद लें और घटाएं अपना वजन

क्या आपको पता है कि वजन कम करने या अपने वजन को बनाए रखने के लिए आपको न केवल अपनी डाइट और एक्सरसाइज को मैनेज करना होगा बल्कि अपनी नींद को भी मैनेज करना होगा। हां, कई अध्ययनों से पता चला है कि कम नींद से वजन बढ़ सकता है। यहां बताया गया है कि नींद की कमी आपके शरीर और आपके शरीर के वजन को कैसे प्रभावित कर सकती है।

अधिक आत्म-नियंत्रण की आवश्यकता

यदि आप अपना वजन कम करना चाहते हैं, तो आप को सभी प्रकार के मीठे और जंक फूड का सेवन छोड़ना या कम करना होगा। यदि आप बाहर खाना खाने या जंक फ़ूड के शौक़ीन हैं, तो इन्हें कम करने के लिए अत्यधिक आत्म-नियंत्रण की आवश्यकता होगी, कम से कम आपके वजन घटाने की शुरुआत में। हालाँकि जब आपकी नींद कम हो जाती है तो आप अधिक चाय या कॉफी पीने के साथ-साथ वर्कआउट करने और खाना पकाने को भी छोड़ देंगे और कुछ पैक्ड फूड मंगा लेंगे या बाहर डिनर पर पहुंच जाएंगे।
आपके नींद से वंचित मस्तिष्क को फ्रीज में रखी आइसक्रीम को देखकर आत्म-नियंत्रण करने में मुश्किल हो सकती है!

​नींद और नाश्ते के बीच संबंध

American Journal of Clinical Nutrition में प्रकाशित एक स्टडी में पाया गया है कि जब लोग पर्याप्त नींद नही ले पाते हैं तो वे नाश्ते का अधिक सहारा लेते हैं और वे इसमें भी हाई कार्बोहाइड्रेट वाला नाश्ता चुनते हैं।
शिकागो विश्वविद्यालय की एक अन्य स्टडी में पाया गया कि नींद से वंचित प्रतिभागियों ने कम से कम 8 घंटे सोने वालों की तुलना में दोगुना वसा वाले नाश्ते का चयन किया।
एक अन्य स्टडी में पाया गया कि बहुत कम सोने से लोग सभी खाद्य पदार्थों को अधिक मात्रा में खाने के लिए प्रेरित होते हैं। इससे वजन बढ़ सकता है.
इसके अलावा, 18 अन्य स्टडीज की समीक्षा में पाया गया कि नींद की कमी के कारण उच्च केलोरी तथा कार्बोहाइड्रेट वाले खाद्य पदार्थों की लालसा बढ़ जाती है जिससे आपका वजन बढ़ सकता है।

मेटाबोलिज्म और नींद

बहुत कम नींद भी तनाव से संबंधित हार्मोन कोर्टिसोल में वृद्धि का कारण बनती है – जो आपके शरीर के लिए ऊर्जा बचाने का एक इशारा है। इसके कारण आपके शरीर में वसा की मात्रा बढ़ जाती है।

नींद और इंसुलिन

शोधकर्ताओं ने पाया है कि अपर्याप्त नींद से केवल 5 दिनों के भीतर ही आपके शरीर की इंसुलिन प्रोसेस करने की क्षमता – जो चीनी, स्टार्च और अन्य भोजन को ऊर्जा में बदलने के लिए आवश्यक है – गड़बड़ा जाती है। इंसुलिन सेंसिटिविटी 30% से अधिक कम हो सकती है। जब आपका शरीर इंसुलिन के प्रति ठीक से प्रतिक्रिया नहीं करता है, तो उसे आपके रक्तप्रवाह से वसा को प्रोसेस करने में कठिनाई होती है और उसका संग्रह हो जाता है जिससे वजन बढ़ जाता है।
इसलिए नींद आपको सीधे तौर पर वजन कम करने में मदद नहीं कर सकती है लेकिन पर्याप्त नींद न लेने से वजन बढ़ सकता है।

Leave a comment